कदे फुर्सत मिलै तो सोचिये जरूर के क्यों एक लापरवाह छोरा तेरी परवाह करा करै था। 😭😔😢

तेरे सुथराई प मरण आले तो भोत थे पर तेरा दिल त प्यार तो आज भी मैं ए करूँ सूं। 😭😔😢

ना जानै किसी नज़र लाग गी इस दुनिया की के इब तो हास्या भी नी जांदा। 😭😔😢

दर्द सहन की इब तो इतनी आदत होगी के इब दर्द न मिलै तो दर्द होण लाग जावै स। 😭😔😢

इब तो शायद ए कोए मनै प्यार करै क्यूँकि आंख्या म दिखण लागी इब तू। 😭😔😢

बारिश अर महोब्बत दोनों ए यादगार होया करै, एक म देहि भीज जावै स तो दूसरी म आंख भीज जावै स। 😭😔😢

र बावली कोए ना आवै मेरी ज़िंदगी म तेरे सिवा एक मौत  ए बस जिसका मैं वादा ना करता। 😭😔😢

कोई भी दिवार मनै तेर त मिलण त रोक ना पाती ज्य तनै मेर प थोड़ा सा भी भरोसा होता तो। 😭😔😢

र बावली एक ब मनै ए कह देती, प्यार करा था तेर त कोए टाइमपास थोड़ी। 😭😔😢

वा ना मिलदी तो ए सही था, बिना खाम प्यार त नफरत होगी इब। 😭😔😢

तू भला ए बदल लिए आप न, याद बात याद रखिये हर कोई तेरी झूठ प विश्वास ना करै। 😭😔😢

लोग कहवै स के मुकरावै भोत स, इब  उन न नु कुकर बताऊ के इस मुस्कराहट के पीछै दर्द कितना स। 😭😔😢

काश तू मेरी आंख का आशु बन जावै, मैं रोना ए छोड़ दू तनै खोंण का डर त। 😭😔😢

उसकी चाहता म हाम नु बन्धरे सा के वा साथ भी कोनी अर हाम अकेले भी कोणी। 😭😔😢

बैरण, तेर त बिछड़ के फर्क सिर्फ इतना आया के तेरा कुछ गया नी अर मेरा कुछ रह्या नी। 😭😔😢

इश्क ना होणं के बस दो ए तरिके थे ज्य तो तू ना होती ज्य फेर यो इसक ना होता। 😭😔😢

किसे त प्यार करना अर उसे का प्यार पाना भोत कम लोगां न नसीब होया करै। 😭😔😢

घना कीमे नई बदल्या उसकै अर मेरे बीच म, पहला नफरत ना थी अर इब प्यार कोनी। 😭😔😢

आदमी ज़िन्दगी म बस एक ए बार महोब्बत करा करै, बाकी की महोब्बत तो पहली आली महोब्बत न भुलाँण खातर करा करै। 😭😔😢

खुश तो वो लोग होया करै जो जिस्म त प्यार करा करै, ना दिल त प्यार करण आले तो आज भी तड़फै स। 😭😔😢

र लाडलो महोबत छोड़ क कीमे भी जुर्म कर लियो, ना मेरे की ढाल मुसाफिर बन जाओगे तन्हा रातो के। 😭😔😢

भोत देर त देखन लागरा हु तेरी तस्वीर न, बेरा नी इसा क्यों लाग्या के इब तू वा नी जो पहला थी। 😭😔😢

कदे कदे कितनी बात होवै स बोलण खातर पर कोए सुनन आला ना होता। 😭😔😢

नु तो ज़िन्दगी न भोत कीमे सिखाया मेर त पर झूठी हसी तो मनै तेर त ए सीखी। 😭😔😢

कटण लागरी स ज़िन्दगी रोते होये वो भी तेरे होते होये। 😭😔😢

उस न मैं याद आऊं सूं फुरसत म अर याद बात भी सच स के उस न फुर्सत कदे मिलदी कोनी। 😭😔😢

दर्द बन क रह जावैगी म्हारे साथ, सुना स दर्द कई टाइम तक गेल्या रह्या करै। 😭😔😢

तैरना तो आवै था मनै भी महोब्बत के समंदर म, पर उस न हाथ ए ना पकड़ा तो हाम न डूब जाना ए सही समझा। 😭😔😢

र लाडलो कीमे अलग करना स तो वफ़ा करो, मज़बूर का नाम ले क बेवफाई तो सारी करै स। 😭😔😢

तेरे बाद कौन बनैगा मेरा हमदर्द, मनै तो अपने और खो दिए तनै पाण खातर। 😭😔😢

सुना था प्यार मिला करै प्यार क बदला म, जब मेरी  बारी आई तो यो रिवाज़ ए बदल गया। 😭😔😢

र बावली, जिस दिन रूस गया न उस दिन क बाद तो मेरा नाम भी सुनाई ना देवैगा। 😭😔

कितनी दूर चले जावै स वे लोग, जिन न आपा ज़िन्दगी समझ क खोना नी चांदे। 😔😭😫

टूट जावैगी उसकी ज़िद उस भखत, जब उस नै नू बेरा लागैगा के इब उस न याद करण आला खुद एक याद बन गया। 😭😔😢

र लाडलो ज्य थाम न म्हारे स्टेटस बढ़िया लागै तो शेयर जरूर कर दियो अर उस धोरै जरूर भेजियों, जिसकै कारण म्हारा भाई न आज रोना पड़ग्या।

Share Sad Status with your Friends on Whatsapp and Facebook.